सलमान खान को एके-47 से छलनी करने की साजिश नाकाम, -लॉरेंस बिश्नोई गैंग के चार शूटर गिरफ्तार

खबर शेयर करें

मुंबई। नवी मुंबई पुलिस ने बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान की हत्या की एक और साजिश का खुलासा किया है. लॉरेंस बिश्नोई गिरोह ने कथित तौर पर पाकिस्तानी हथियार सप्लायर से प्राप्त हथियारों से लैस, महाराष्ट्र के पनवेल में सलमान खान की कार पर हमला करने की साजिश रची थी. मामले में नवी मुंबई पुलिस ने स्नढ्ढक्र दर्ज कर इस साजिश से जुड़े चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. बता दें कि, इससे पहले 14 अप्रैल को सलमान के  मुंबई के बांद्रा में वाले फ्लैट के बाहर दो बाइक सवार लोगों ने गोलीबारी की थी.


पुलिस सूत्रों के अनुसार, जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई ने अपने कनाडा स्थित चचेरे भाई अनमोल बिश्नोई और सहयोगी गोल्डी बरार के साथ कथित तौर पर एक पाकिस्तानी हथियार डीलर से एके-47, एम-16 और अन्य हाई कैलिबर हथियारों के साथ सलमान खान के वाहन पर घात लगाकर हमला करने या उनके फार्महाउस पर हमला करने की प्लानिंग तैयार की थी.
गौरतलब है कि, सलमान खान के बांद्रा स्थित आवास के बाहर गोलीबारी की घटना के बाद, पुलिस ने चार संदिग्धों को गिरफ्तार किया था, जिसमें  विक्की गुप्ता और सागर पाल को गुजरात में पकड़ा गया, जबकि अनुज थापन और एक अन्य व्यक्ति को 26 अप्रैल को पंजाब में हिरासत में लिया गया था. इस गोलीबारी में कुल मिलाकर, छह गिरफ्तारियां की गई हैं, हालांकि अनुज थापन की पुलिस हिरासत में मौत हो गई.

फ़ास्ट न्यूज़ 👉  तल्लीताल क्षेत्र निवासी युवक ने मंगोली चौकी के पुलिस कर्मी पर लगाया मारपीट का आरोप


वहीं दूसरी ओर पुलिस हिरासत में थापन की मौत ने मामले में कई सवाल खड़े कर दिए हैं. बॉम्बे हाई कोर्ट ने पेश की गई अधूरी ऑटोप्सी रिपोर्ट पर निराशा साधते हुए कहा कि, इसमें महत्वपूर्ण विवरण का अभाव है, जैसे कि थापन की गर्दन पर पाए गए  संयुक्ताक्षर चिह्न का आरेख और किसी अन्य संभावित चोटों की जानकारी।

फ़ास्ट न्यूज़ 👉  हल्द्वानी से दिल्ली जा रही उत्तराखंड रोडवेज की बस दुर्घटनाग्रस्त, -परिचालक की मौत, 14 लोग घायल


थापन की मां रीता देवी ने 3 मई को एक याचिका दायर की, जिसमें आरोप लगाया गया कि उनके बेटे पर पुलिस हिरासत में शारीरिक हमला किया गया और प्रताडि़त किया गया, जिससे 1 मई को  मुंबई अपराध शाखा लॉक-अप में उसकी मौत हो गई. जबकि पुलिस का कहना है कि थापन की मौत आत्महत्या से हुई, सुश्री देवी की याचिका में घटना की केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से जांच की मांग की गई है.

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 फ़ास्ट न्यूज़ के WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 फ़ास्ट न्यूज़ के फ़ेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 कृपया नवीनतम समाचारों से अवगत कराएं WhatsApp 9412034119