आगरा में सिपाही के कमरे पर नर्स ने लगाई फांसी, सिपाही फरार

खबर शेयर करें


आगरा। उत्तर प्रदेश में आगरा जिले के छत्ता क्षेत्र में तैनात सिपाही के कमरे में एक नर्स का शव फंदे पर लटका मिला। सिपाही और उसके परिचित आनन-फानन में उसे अस्पताल लेकर गए, जहां डॉक्टरों ने नर्स को मृत घोषित कर दिया। सिपाही नर्स के शव को अस्पताल में ही छोडक़र भाग गया।


डॉक्टरों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। युवती के परिजनों को सूचित कर दिया गया है। मृत नर्स शोभा हमीरपुर की रहने वाली थी और झांसी निवासी और यहां थाना छत्ता में तैनात सिपाही राघवेन्द्र से उसकी मित्रता थी। नर्स दिल्ली में नौकरी करती थी। वह दिल्ली जाने के लिए घर से निकली थी, लेकिन उससे पहले सिपाही के कमरे पर ठहर गई।

फ़ास्ट न्यूज़ 👉  हनी ट्रैप में फंसे शिक्षक ने आठ लाख रुपये गंवाए


सूत्रों के अनुसार गुरुवार रात शोभा राघवेंद्र से मिलने उसके कमरे पर पहुंची थी। शुक्रवार सुबह उसने कमरे में ही फांसी लगाई। राघवेंद्र उसे लेकर अस्पताल गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उसके मरने की बात जैसे ही राघवेंद्र को पता चली, वह शव को छोडक़र भाग गया। जानकारी मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने युवती के परिजनों को सूचना दे दी है।

फ़ास्ट न्यूज़ 👉  बड़ी खबर...लड़कियों की शादी की उम्र बढ़ाने वाला विधेयक 17वीं लोकसभा के भंग होने के साथ हुआ कालातीत


पुलिस अब इस छानबीन में लगी है कि ऐसा क्या हुआ जिस कारण शोभा ने अपने गले में फंदा लगाकर जान दे दी। सिपाही के फरार हो जाने की सूचना ने इसे और पेचीदा बना दिया है। एसीपी छत्ता राकेश कुमार सिंह का कहना है कि अभी वे प्रशासनिक कार्यवाही कर रहे हैं। परिजनों की तहरीर पर कार्यवाही की जाएगी। मामले की जांच की जा रही है कि युवती ने कमरे में फांसी क्यों लगाई। सिपाही की भी तलाश की जा रही है।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 फ़ास्ट न्यूज़ के WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 फ़ास्ट न्यूज़ के फ़ेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 कृपया नवीनतम समाचारों से अवगत कराएं WhatsApp 9412034119