अश्लील ऑडियो मामले में पंतनगर थानाध्यक्ष निलंबित

खबर शेयर करें

-जनप्रतिनिधियों का दबाव पड़ने के बाद एसएसपी ने लिया एक्शन

पंतनगर के थानाध्यक्ष राजेन्द्र सिंह डांगी का एक युवती से अनैतिक डिमांड का ऑडियो वायरल होने के मामले में जनप्रतिनिधियों का दबाव पड़ने के बाद आखिरकार एसएसपी ने थानाध्यक्ष को निलंबित कर दिया है। इस मामले में किच्छा के मौजूदा विधायक तिलकराज बेहड़ के साथ ही पूर्व विधायक राजेश शुक्ला ने भी थानाध्यक्ष के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। शुक्रवार को पूर्व विधायक राजेश शुक्ला ने जहां एसएसपी से मिलकर थानाध्यक्ष के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। जबकि मौजूदा विधायक तिलकराज बेहड़ ने प्रेस कांफ्रेंस कर दो दिन के भीतर थानाध्यक्ष के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने पर बेमियादी धरने पर बैठने का ऐलान किया था।

बता दें कुछ समय पहले पंतनगर थाना क्षेत्र में दो पक्षों के बीच विवाद हो गया था। जिसमें पुलिस ने एक पक्ष का मुकदमा दर्ज कर पिता पुत्री को जेल भेज दिया। जेल गयी युवती की बहन इस मामले में पैरवी में लगी थी ओर दूसरे पक्ष के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए पंतनगर थाना समेत अन्य आला अधिकारियों के चक्कर काट रही थी। बताया जाता है कि इसी बीच युवती पंतनगर थानाध्यक्ष राजेन्द्र सिंह डांगी से भी मिली। युवती फोन पर भी कार्रवाई के लिए थानाध्यक्ष से संपर्क कर रही थी। युवती से हुई थानाध्यक्ष की बातचीत का एक ऑडियो दो दिनों से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। किच्छा विधायक तिलकराज बेहड़ ने गुरूवार शाम खुद प्रेस कांफ्रेस में इस मामले को उठाकर ऑडियो मीडिया कर्मियों को दिया था। इससे पहले तिलकराज बेहड़ मामले की शिकायत डीजीपी से भी कर चुके थे। वायरल ऑडियो में थानाध्यक्ष युवती से कार्रवाई के नाम पर अनैतिक डिमांड कर रहे हैं। थानाध्यक्ष युवती से अकेले में मिलने और उसे गाड़ी में घुमाने के साथ ही अनैतिक डिमांड कर रहे हैं, जिसके लिए युवती इनकार करती है।

फ़ास्ट न्यूज़ 👉  पहाड़ पर पति के साथ सेल्फी ले रही महिला की खाई में गिरकर मौत, -रस्सी के जरिए खाई में गिरी महिला तक पहुंची एसडीआरएफ की टीम

डीजीपी के निर्देश के बाद महिला आईपीएस अधिकारी को इस मामले की जांच सौंपी गयी है। ऑडियो तेजी से वायरल होने के बाद पुलिस की किरकिरी हो रही थी। मामला शुक्रवार को तूल पकड़ गया। शुक्रवार को किच्छा विधायक तिलकराज बेहड़ ने मामले में पुनः प्रेस कांफ्रेस की। विधायक तिलकराज बेहड़ ने एसएसपी को चेतावनी देते हुए कहा है कि यदि दो दिन में थानाध्यक्ष को निलंबित कर उनके विरूद्ध मुकदमा दर्ज नहीं किया गया तो वह एसएसपी कार्यालय में बेमियादी धरना शुरू कर देंगे। उन्होंने कहा कि अभी तो महज पुलिस के एक अधिकारी का खुलासा किया है यदि थानाध्यक्ष के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई तो वह जल्द ही पुलिस के कई और कारनामों का खुलासा करेंगे। बेहड़ ने कहा कि उन्होंने अपने जीवन में पहली बार देखा है, एसएसपी कार्यालय से किसी नेता के एसएसपी से मिलने के कार्यक्रम की कवरेज के लिए पत्रकारों को आमंत्रित किया गया हो। उन्होंने इसकी जानकारी पुलिस आलाधिकारियों को देकर जांच कराने की मांग की है।

फ़ास्ट न्यूज़ 👉  मशहूर डॉक्टर की बिन ब्याही लड़की व बेटे के साथ फोटो व चैट वायरल -डाक्टर को बचाने समझौते के प्रयास में जुटे नामी लोग  

दोपहर बाद एसएसपी ने मामले में कार्रवाई करते हुए थानाध्यक्ष को निलंबित कर दिया। उन्हों कहा कि प्रकरण में विस्तृत विभागीय जांच के दिए आदेश दिये गये हैं। जांच उपरांत आगे की कार्यवाही की जायेगी। साथ ही एसएसपी ने जिले के समस्त पुलिस अधिकारियों कर्मचारियों को भी चेतावनी दी हे कि कोई भी अधिकारी कर्मचारी के खिलाफ किसी पीड़ित, फरियादी, वादी, प्रतिवादी और महिला के साथ किसी प्रकार की अश्लील हरकतों की शिकायत मिलती है तो उसके खिलाफ दीर्घ दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 फ़ास्ट न्यूज़ के WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 फ़ास्ट न्यूज़ के फ़ेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 कृपया नवीनतम समाचारों से अवगत कराएं WhatsApp 9412034119