झाड़ियां काट रहे 57 वर्षीय नेपाली श्रमिक को बाघ ने मार डाला

खबर शेयर करें

रामनगर । कॉर्बेट नेशनल पार्क के ढिकाला जोन में कैंपस के बाहर झाड़ियां काट रहे 57 वर्षीय नेपाली श्रमिक पर बाघ ने हमला कर उसे जान से मार डाला। मौके पर मौजूद बंदूकधारी वनकर्मियों ने खूंखार बाघ पर करीब 12 राउंड फायरिंग की, तो हमलावर बाघ शव छोड़कर भाग गया। पिछले 12 नवंबर को भी  इसी क्षेत्र में बाघ ने एक अन्य नेपाली श्रमिक को भी अपना शिकार बना लिया था। इस घटना से श्रमिकों में वन विभाग के प्रति आक्रोश व्याप्त है।

कॉर्बेट टाइगर रिजर्व के ढिकाला जोन में गेस्ट हाउस के समीप सोलर फेंसिंग के आसपास झाड़ी कटान के लिए विभाग ने श्रमिकों को लगा रखा है। इनकी सुरक्षा के लिए बंदूकधारी वनकर्मियों को भी तैनाती की गई है। आज सुबह श्रमिक ढिकाला कैंपस के बाहर झाड़ियों का काट रहे थे। इसी दौरान झाड़ियों को काट कर रहे नेपाली मूल के राम बहादुर उर्फ रामू पुत्र खड़क सिंह   पर सुबह के समय बाघ ने हमला कर दिया। रामू को लंबे समय से पार्क में श्रमिक का काम करने का लगभग 38 वर्ष का अनुभव था। बाघ श्रमिक रामू को उठाकर जंगल  ले गया। यह देख वहां झाड़ी कटान कर रहे अन्य श्रमिकों व वन कर्मियों ने शोर शराबा कर बाघ को भगाने का प्रयास किया। लेकिन बाघ के टस से मस नहीं होने के कारण वनकर्मियों ने बाघ पर फायर खोल दिए,करीब 12 राउंड फायरिंग के बाद बाघ श्रमिक के शव को छोड़कर जंगल में चला गया।

फ़ास्ट न्यूज़ 👉  गणाई गंगोली में कार दुर्घटनाग्रस्त, चालक की मौत

बाघ के हमले में मारे गए श्रमिक की मौत से श्रमिकों में वन विभाग के प्रति जबरदस्त रोष व्याप्त है। घटना की जानकारी लगते ही पार्क निदेशक डॉ धीरज पांडे, पार्क वार्डन अमित ग्वास्कोटी, आदि अधिकारी मौके पर पहुंचे और स्थिति का अवलोकन किया। तथा बाघ को पकड़ने के प्रयास तेज कर दिए गए। उधर नेपाली श्रमिक रामू का शव संयुक्त चिकित्सालय रामनगर मोर्चरी में रखा गया है  जहा शुक्रवार को शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 फ़ास्ट न्यूज़ के WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 फ़ास्ट न्यूज़ के फ़ेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 कृपया नवीनतम समाचारों से अवगत कराएं WhatsApp 9412034119